कृषि

बागवानी (HORTICULTURE) क्या हें और केसे करते हें

HORTICULTURE

बागवानी (HORTICULTURE) शब्द दो लैटिन शब्दों “हॉर्टस” और “कोलियर” से आया है, जिसका अर्थ है उद्यान संस्कृति।
बागवानी कृषि की एक शाखा है जो फलों, सब्जियों, फूलों और अन्य पौधों के उपयोग से संबंधित कुछ विशेषताओं से संबंधित है। बागवानी में हम सभी प्रकार के फलों, फूलों तथा सब्जियों के बारे में पढ़ते हैं। इसमें हम यह भी देखते हैं कि किस समय कौन से फल, फूल तथा सब्जियां उगाई जाती है।। बागवानी में हम अधिकांश फूल तथा फल के बारे में ही ज्यादा पढ़ते हैं उसका संरक्षण कैसे किया जाए किस प्रकार से उन्हें एक अच्छा फलदार पौधा बनाया जाए यही सब हम इसमें देखते हैं

आइए अब हम बागवानी के शाखाएं जान लेते हैं की किस शाखा में कौन सा पौधा उगाया जाता है।।

BRANCHES OF HORTICULTURE

पोमोलॉजी (फल संस्कृति):

फलों और नटों के उत्पादन, कटाई, प्रसंस्करण, संरक्षण, भंडारण और विपणन से संबंधित बागवानी की शाखा। इस शाखा में हम फलों का उत्पादन करते हैं

ओलेरीकल्चर (सब्जी संस्कृति):

सब्जियों के बढ़ने, संभालने, भंडारण, प्रसंस्करण और विपणन का विज्ञान और अभ्यास। इस शाखा में हम सब्जी उत्पादन करते हैं।।

वृक्षारोपण फसलें:

नारियल, सुपारी, रबड़, कॉफी आदि फसलों की खेती को संदर्भित करता है।

मसाला फसलें:

फसलों की खेती को संदर्भित करता है जैसे, इलायची, काली मिर्च, जायफल आदि। इसमें हम सभी प्रकार के मसाले जो हमारे भोजन में उपयोग होते हैं उन्हें उत्पादन करते हैं।।

औषधीय और सुगंधित फसलें:

औषधीय और सुगंधित फसलों की खेती से संबंधित है। इसमें हम तुलसी जैसे अनेक प्रकार के औषधीय और सुगंधित फसलों का उत्पादन करते हैं।।

पोस्ट हार्वेस्ट टेक्नोलॉजी:

पोस्ट हार्वेस्टिंग फसलों की ग्रेडिंग हैंडलिंग, ग्रेडिंग, पैकेजिंग, स्टोरेज, प्रोसेसिंग, वैल्यू एडिशन, मार्केटिंग आदि से संबंधित है।

पादप प्रसार:

पौधों के प्रसार से संबंधित है।

तो आज का लेख हमारा बागवानी और बागवानी के शाखाओं से था तो बताएं जरूर कैसा आपको यह लगा अगर अच्छा लगा तो कमेंट में अपनी राय जरूर दें और इसे अधिक से अधिक लोगों तक जरूर पहुंचाएं।।

Back to top button