अजब ग़ज़ब रोचकटेक ज्ञाननया सीखे

RTGS क्या है? RTGS और NIFT में क्या अंतर है

RTGS क्या है? अगर आपने कभी बैंक के एक खाते से दूसरे बैंक के खाते में लेनदेन किया है तो RTGS का नाम जरूर सुना होगा। क्या आप जानते हैं कि RTGS क्या होता है? RTGS का अर्थ क्या है? RTGS और NIFT में क्या अंतर होता है? तो हम आपको बता दें RTGS एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में पैसा Transfer करने की सबसे तेज प्रक्रिया है। इसे बैंकिंग सर्विस इस्तेमाल करने वाला लगभग हर इंसान कभी न कभी इस्तेमाल जरूर किया होग।

RTGS क्या है (What is RTGS?)


RTGS एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में पैसा Transfer करने का एक इलेक्ट्रॉनिक तरीका है। RTGS का फुल Real Time Gross Settlement होता है। यह एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में तुरन्त पैसा Transfer करने का सबसे तेज तरीका है। इस प्रक्रिया में जब एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में पैसा Transfer करने को कमांड किया जाता है तो दूसरे बैंक के account में मिनटों में पैसा Transfer हो जाता है। लेकिन इसके लिए एक समय सीमा निर्धारित होती है। RTGS सुबह 8 बजे से शाम 4:30 बजे तक ही किया जा सकता है।

RTGS से संबंधित महत्वपूर्ण बाते (Important fact related to RTGS)


  • RTGS से एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में पैसा Transfer किया जाता है। जैसे यदि आपका account पंजाब नेशनल बैंक में है और आप भारतीय स्टेट बैंक के किसी account में पैसा Transfer करना चाह रहे हैं तो RTGS का प्रयोग करके दूसरे account में पैसा भेज सकते हैं। लेकिन यदि आपका account स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में है और आप स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के ही दूसरे खाते में पैसा Transfer करना चहटर हैं तो यहां पर RTGS का प्रयोग नही किया जा सकता है। अर्थात एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में पैसा Transfer हो सकता है, लेकिन Same बैंक में RTGS की प्रक्रिया नही की जा सकती है।
  • RTGS में पैसा Transfer करने के लिये minimum limit 2 लाख रुपये होती है। इसकी maximum limit का निर्धारण नहीं किया गया है। आप जितना ज्यादा Transfer कर सकते हैं उतना ज्यादा एक खाते से दूसरे खाते में पैसा Transfer कर सकते हैं।
  •  RTGS के लिए  हर बैंक के अलग-अलग सर्विस चार्ज लेता है। यह Transfer amount पर भी निर्भर रहता है कि आप कितना amount Transfer कर रहे हैं।

RTGS कैसे करे (How to do RTGS)


बहुत सारे लोगों को यह नही पता होता है कि RTGS कैसे किया जाता है। तो हम बता दें RTGS दो तरह से कर सकते हैं –  पहला तरीका है Online दूसरा तरीका है Offline।

RTGS का Online method


 जो लोग इंटरनेट बैंकिंग (Internet Banking) का इस्तेमाल करते हैं वे लोग Online RTGS कर सकते हैं। इसके लिए आपको जिस व्यक्ति को पैसा Transfer करना है उसे पर Beneficiary के रूप में account में add करना होता है। इसमे Account के विषय में जानकारी देनी होती है – जैसे बैंक की शाखा, खाता नंबर, IFSC (Indian Financial System Code)। इसके बाद बैंक Beneficiary की details को चेक करता है। कई बार इस काम को करने में 12 से 24 घंटे का समय लग जाता है। बैंक के द्वारा जब चेकिंग प्रोसेस पूरा हो जाता है तब बे Beneficiary कस्टमर को Active कर दिया जाता है। फिर Beneficiary कस्टमर को आसानी से पैसा Transfer किया जा सकता है।

RTGS का Offline Method


यदि आप Online अप्लाई नहीं करना चाहते हैं तब Offline में RTGS किया जा सकता है। इसके लिए बैंक ब्रांच में जाकर एक स्लिप भरनी होती है। जैसे चेक डिपाजिट है या NEFT किया जाता है, ठीक वैसे ही। 

जब इंस्ट्रक्शन स्लिप भर कर जमा की जाती है तब Sending बैंक उस इंस्ट्रक्शन स्लिप में भरी गई Information को अपने सेंट्रल प्रोसेसिंग सिस्टम में feed करता है। यह जानकारी RBI को दे दी जाती है। फिर RBI ट्रांजैक्शन के प्रोसेस को कंप्लीट करता है, जिस account में पैसे को भेजना रहता है उस बैंक के account से पैसा Debit करके RTGS Beneficiary के account में Credit कर देता है

इस प्रक्रिया में Unique Transection Number (UTI) जनरेट होता है जिसे आरबीआई amount सेंड करने वाले बैंक के खाते में भेज देता है। UTI मिलने का मतलब है फंड Transfer हो गया है। इस प्रक्रिया को पूरा होने में लगभग 30 मिनट का समय लगता है।

RTGS और NIFT में क्या अंतर है (Diff between RTGS and NEFT)


RTGS और NEFT दोनों का काम एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में पैसा Transfer करना होता है। दोनों के बीच प्रमुख अंतर समय सीमा और लिमिट का होता है। NEFT में पैसा Transfer करने की कोई लिमिट नही होती है ₹1 से अधिक लेकर कितना भी पैसा दूसरे बैंक में NIFT से Transfer किया जा सकता है। वहीं RTGS में एक खाते से दूसरे खाते में न्यूनतम दो लाख या उससे अधिक Transfer करना होता है।

RTGS में जहां पैसे तुरंत Transfer हो जाते हैं। वहीं NEFT में पैसा Transfer होने में कुछ समय लगता है। यह प्रक्रिया कुछ घंटों की हो सकती है। NIFT में पैसे Transfer करने के लिए टाइम सुबह 8 से शाम 7 बजे तक है। वही RTGS में पैसा Transfer करने की टाइमिंग सुबह 8 बजे से शाम 4:30 बजे तक के लिए रहती है।

आगे पढ़े : अग्निशामक यंत्र (FIRE EXTINGUISHERS) क्या है? यह कितने प्रकार का होता है, इसका कब, कैसे प्रयोग करे

Archana Yadav

मुझे नए नए टॉपिक्स में लेख लिखना पसंद हें, मेरे लेख पढ़ने के लिए शुक्रिया आपको केसा लगा कॉमेंट करके ज़रूर बताए.

Related Articles

Back to top button