शेयर मार्केट

शेयर मार्केट में हेज फण्ड HEDGE FUND क्या होता है?

Hedge Fund: शेयर बाजार में एक शब्द हेज फंड काफी ज्यादा सुनने को मिलता है। शेयर बाजार में हेज फंड (Hedge Fund) एक निवेश निधि है। यह मान्यता प्राप्त व्यक्तियों या संस्थागत निवेशकों से पूंजी जुटाने का काम करता है।

 Hedge Fund विभिन्न परिसंपत्तियों में विशेष करके जटिल पोर्टफोलियो निर्माण और जोखिम प्रबंधन तकनीकी के साथ निवेश करता है। इसे एक पेशेवर निवेश प्रबंधक फॉर्म फॉर्म द्वारा मैनेज किया जाता है। यह प्रबंधित अथवा घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दोनों बाजारों में डेरिवेटिव और लीवर जिसका उपयोग आसानी से कर सकता है।

 हेज फंड (Hedge Fund) आमतौर पर म्यूच्यूअल फंड से थोड़ा अलग होते हैं। इसमें इक्विटी या बॉन्ड जैसे परंपरागत पोर्टफोलियो से संबंध देखने को नहीं मिलता है। अधिकांश फंड तरल परिसंपत्तियों में निवेश किए जाते हैं। इसलिए ऐसा समझा जाता है कि हेज फंड (Hedge Fund) में निवेश का स्तर विविधीकरण निवेश की दिशा में कदम उठाया जा सकता है।

हेज फंड क्या है (What is Hedge Fund) –

 हेज फंड (Hedge Fund) बेहद चुनिंदा केवल कुछ प्रबुद्ध अथवा मान्यता प्राप्त निवेशकों के लिए ही उपलब्ध होते हैं। इसे आम जनता के लिए पेश नहीं किया जाता है। कानूनी रूप से देखा जाए तो है Hedge Fund को प्रायः निजी निवेश भागीदारी को सीमित रूप में स्थापित किया जाता है। यह सीमित संख्या में मान्यता प्राप्त निवेशकों के लिए ही खोले जाते हैं।

 प्रत्येक हेज फंड को कुछ पहचानने योग्य बाजार के अवसरों का लाभ उठाने के लिए ही प्रमुख रूप से बनाया जाता है। हेज फंड (Hedge Fund) निवेश के लिए विभिन्न रणनीतियों का इस्तेमाल करते हैं। इस तरह से हेज फंड अक्सर निवेश शैली के अनुसार ही वर्गीकृत किए जाते हैं। इसमें जोखिम के गुण और निवेश में पर्याप्त विविधता देखने को मिलती है।

हेज फंड निवेश रणनीतियों का लक्षण विशेषकर के निवेश पर सकारात्मक रिटर्न हासिल करके लाभ कमाना होता है। बाजार चाहे गिरे या बढ़े, दोनों ही परिस्थितियों में हेज फंड पॉजिटिव रिटर्न देने की क्षमता वाले होते हैं। हेज फंड मैनेजर आमतौर पर खुद का पैसा निवेश करते हैं।

 हेज फंड का निवेश यूनिवर्सल केवल अपने जनादेश तक ही सीमित रहता है। एक हेज फंड  मूल रूप से कुछ जमीन, रियल एस्टेट, स्टॉक, डेरिवेटिव और मुद्राओं में ही निवेश कर सकता है।

 हेज फंड बेहद आक्रामक नीति का पालन करते हैं। चाहे फिर वह घरेलू बाजार में निवेश करें अथवा अंतरराष्ट्रीय बाजार में। वे घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दोनों ही बाजारों में नुकसान से बचने और अधिक से अधिक लाभ कमाने के लिए वायदा सौदों का इस्तेमाल किया करते हैं। आमतौर पर हेज फंड निवेशकों को कुछ सालों की अवधि के लिए पैसा लॉक करने की जरूरत रहती है। इसमें इसी तरह से निवेश किया जाता है। 

यह भी देखे: BULL और BEARS स्टॉक मार्केट क्या है?

Archana Yadav

मुझे नए नए टॉपिक्स में लेख लिखना पसंद हें, मेरे लेख पढ़ने के लिए शुक्रिया आपको केसा लगा कॉमेंट करके ज़रूर बताए.

Related Articles

Back to top button